Biography of narendra modi in hindi

Biography of narendra modi





Biography of narendra modi in hindi


नरेंद्र मोदी आज देश और दुनिया मे बहुत ही चर्चित ओर प्रसिद्ध राजनेता है।
नरेंद्र मोदी ने भारत की छवि को विश्व पटल पर मजबूत किया है।आज अमेरिका जैसा देश भी भारत को हल्के में नही लेता है।
नरेंद्र मोदी सामान्य पृष्ठ भूमि से आती है,इनका बचपन बहुत ही गरीबी में बिता।

नरेंद्र मोदी का जन्म गुजरात के मेहसाना जिले में बडनगर कस्बे में हुआ था,नरेन्द्र मोदी अपने माता पिता के छः भाइयो के बीच तीसरी सन्तान थे।
नरेंद्र मोदी का बचपन काफी कठिनाइयों ओर संघर्ष में बिता था
उनके पिता रेलवे स्टेशन पर चाय बेचते थे और उनकी माँ दुसरो के घरों में बर्तन साफ किया करती थी।
घर की आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण मा ओर बाप दोनों को कम करना पड़ता था।

उनकी प्रारंभिक शिक्षा उनके गांव वडनगर में ही हुई,
स्कूल से लौटने के बाद वो अपने पिता के साथ चाय बनाने के काम में सहायता करते थे और स्टेशन पर चाय बेचा करते थे ।
वो बचपन से बहुत ही निडर ओर ओजस्वी थे।

बचपन मे जहा बच्चे जानवरों से डरते है लेकिन नन्हें मोदी को निडर थे वो एक बार तालाब में मगरमच्छ का बच्चा पकड़कर अपने घर ले आये थे फिर बाद में अपनी माँ के कहने पर वे उसे वापिस छोड़ कर आये थे।

उनकी शादी बचपन मे जसोदा बेन के साथ हो गयी थी लेकिन मोदी उनके साथ बिल्कुल भी नही रहे और घर छोड़ कर चले गए
मोदी ने अपना बहुत समय हिमाचल के पहाड़ों में साधना करके बिताया।

देश प्रेम की अलख उनमे बचपन से ही लग गयी थी,जब उस समय RSS की शाखाये की लगा करती थी तो सुबह शाखा में जाने वाले स्वयंसेवक उनकी चाय की दुकान पे बैठ कर चाय पिया करते थे और घंटो वहा बैठकर देश और दुनिया की चर्चा किया करते थे तो नरेंद्र मोदी भी उनके पास बैठकर उनकी बाते सुना करते थे। यही से उनका आरएसएस से परिचय हुआ ।

1971 में भारत पाक युद्ध के बाद वो rss में एक प्रचारक के रूप में अपनी यात्रा की शुरुआत की।
वे शुरू से ही ओजस्वी वक्ता थे उन्होंने कई समय तक आरएसएस के प्रचारक के रूप में कार्य किया।

उन्हें जल्द ही आरएसएस के विद्यार्थी संघठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का गुजरात राज्य का प्रभारी बनाया गया।
उनकी योग्यता को देखते हुए आरएसएस में उन्हें 1985 में भारतीय जनता पार्टी में शामिल किया।

1988 में भाजपा के गुजरात विंग के सचिव बने और इसमें उन्होंने पार्टी को चुनाव में काफी सफलता दिलाई।
इसके बाद उन्हें भाजपा के राष्ट्रीय सचिव के रूप में दिल्ली भेज दिया गया।

जब 2001 में गुजरात मे भूकंप आया तो तत्कालीन गुजरात सरकार के राहत कार्यों से पार्टी असंतुष्ट थी इस कारण 2001 में उन्हें गुजरात का मुख्य मंत्री बना दिया गया।

गद्दी संभालते ही उनके सामने अनके चुनोतियाँ थी लेकिन अपने योग्यताओं ओर कार्यकुशलता के दम पर काफी सफलता पूर्वक उसको संभाला ।

वे 2001 से 2014 तक चार बार लगातार गुजरात के मुख्यमंत्री मंत्री रहे।
ओर इस दौरान उन्होंने गुजरात को देश का नम्बर 1 राज्य बना दिया।
2014 में उनके जनाधार ओर लोकप्रियता को देखते हुए पार्टी ने उन्हें प्रधानमंत्री के दावेदार के रूप में प्रस्तुत किया तो वो चुनाव उनके नेतृत्व में लड़ा गया।
ओर पार्टी को बहुत ही जबरदस्त सफलता मिली और
2014 में भारत के प्रधानमंत्री बने।
2019 में पुनः ओर अधिक सीट से पार्टी को जिताकर दोबारा प्रधानमंत्री बने।

पूरा नाम- नरेंद्र दामोदरदास मोदी

पिता का नाम- स्व दामोदर दास मूलचन्द मोदी

माता का नाम - हीरा बेन

जन्मदिन- 17,सिंतबर 1950

जन्म स्थान- वडनगर गुजरात

धर्म- हिंदू

जाती- घांची ( मोदी)

शिक्षा - राजनीति विज्ञान में BA ओर MA

भाई - सोमा मोदी, अमृत मोदी, प्रहलाद मोदी,
पंकज मोदी

राजनीतिक पद - प्रधानमंत्री भारत सरकार

प्रधानमंत्री के रूप में किये गए महत्त्वपूर्ण कार्य-


• नोट बंदी
• स्वच्छ भारत अभियान
• प्रधानमंत्री जन धन योजना
• प्रधानमंत्री उज्वला योजना
• मेक इन इंडिया
• सुकन्या समृद्धि योजना
• गरीब कल्याण योजना
• प्रधानमंत्री आवास योजना
• Gst
• सर्जिकल स्ट्राईक
• एयर स्ट्राइक

प्रधानमंत्री मोदी द्वारा लिखित पुस्तकें
• प्रेमतीर्थ
• साक्षीभाव
• सामाजिक समरसता
• ज्योतिपुंज


Quotes of narendra modi in hindi
नरेंद्र मोदी के सुविचार

• हमारा देश गज़ब की युवा शक्ति  से भरा है।  हम जिस किसी भविष्य की इच्छा रखते हों, हमें युवाओं को केंद्र में रखना होगा।  अगर हम ऐसा कर पाते हैं तो हम एक लहर की भांति अद्भुत गति से आगे बढ़ सकते हैं।
  
• राजनीति में कोई पूर्ण विराम नहीं होता।

• लोकतंत्र में , जनमत हमेशा निर्णायक होता है और हमें विनम्रता के साथ इसे स्वीकार करना होगा।

• आत्मशक्ति व्यक्ति को महान बनाती है
जो व्यक्ति आत्म शक्ति से परिपूर्ण है
वह सदैव अपने लक्ष्य को प्राप्त करता है।

• सौ बार भी जन्म लेना पड़े तो भी
मां भारती के लिए ही कार्य करूंगा।

• मुझे अपने देश के लिए मरने का मौका नहीं मिला पर मुझे देश के लिए जीने का मौका मिला हैं अर्थात देश के हीत में काम करना भी देशभक्ति हैं |

• डरते तो वह है जो अपनी छवि के लिए मरते हैं। और मैं तो भारत की छवि के लिए मरता हूं। इसीलिए किसी से भी नहीं डरता हूं।

• जो लोग कमजोर हैं वे  कभी भी शांति की बात नहीं कर सकते है ,शांति के लिए बहादुरी की  जरूरत होती है।

• जब कोई व्यक्ति यह निश्चित कर लेता है कि उसे कुछ हासिल करना है तो उसे कई भी नहीं रोक सकता है। यह लोगों की शक्ति का प्रमाण है। देश का निर्माण सरकार या फिर प्रशासन अथवा कोई राजनेता नहीं करता है, बल्कि देश का निर्माण इसके नागरिकों की ताकत से होता है।

• माना की अँधेरा घना
 हैं लेकिन दिया जलाना कहा मना हैं।

• मेरे लिए राजनीती कोई लक्ष्य नहीं। बल्कि ये तो एक अभियान
 है

• कड़ी मेहनत कभी थकान नहीं लाती, उससे तो संतोष मिलता है |
• जो निरंतर चलते रहते है, वही बदले में मीठा फल पाते है| सूरज की अटलता को देखो गतिशील, चमकदार और लगातार चलने वाला, जो कभी ठहरता नहीं, इसलिए आगे बढ़ते रहो|

• हमारा दिमाग कभी मुश्किलें पैदा नहीं करता – बल्कि वो तो हमारी सोच के कारण पैदा होती है|

• एक बेहतरीन इंसान अपनी जुबान और कर्मो से ही पहेचाना जाता है, वरना अच्छी बातें तो दीवार पर भी लिखी होती है।



Comments

Popular posts from this blog

मेडिटेशन कैसे करे

Elon musk biography in hindi